February 6, 2023
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • पूर्वांचल न्यूज
  • सबसे खतरनाक कोरोना वैरिएंट डेल्टा प्लस ने दी पूर्वाञ्चल में दस्तक : दो मरीजों में पुष्टि, एक की मौत, दूसरा है स्वस्थ

सबसे खतरनाक कोरोना वैरिएंट डेल्टा प्लस ने दी पूर्वाञ्चल में दस्तक : दो मरीजों में पुष्टि, एक की मौत, दूसरा है स्वस्थ

By Shakti Prakash Shrivastva on July 8, 2021
0 134 Views

गोरखपुर, (संवाददाता)। देश-दुनिया में कोहराम मचा चुका कोरोना वायरस का सबसे खतरनाक वैरिएंट डेल्टा प्लस अब देश के दर्जन भर राज्यों में पहुँच चुका है। बुधवार को मिले एक रिपोर्ट की मुताबिक इस डेल्टा प्लस वैरिएंट ने उत्तर प्रदेश के पूर्वाञ्चल के इलाके में भी अपनी आमद कर दी है। गोरखपुर और देवरिया के दो मरीजों में जीनोम सिक्वेंसिंग रिपोर्ट के जरिए इस वैरिएंट की पुष्टि हुई है। इसमें से एक की मौत भी हो चुकी है।
पिछले दिनों कोरोना के खतरनाक वैरिएंट की वजह से इसके दूसरी लहर ने प्रदेश में भी जमकर तबाही हुई थी। कोरोना की दूसरी लहर पहली से दो गुना घातक रही। पहली लहर में जहां करीब 20 हजार संक्रमित मरीज मिले वहीं दूसरी लहर में करीब 35 हजार से अधिक संक्रमित मिले। दूसरी लहर में संक्रमण की दर इतनी तेज थी कि अप्रैल और मई माह में औसतन 1000 के आसपास मरीज प्रतिदिन मिल रहे थे। लेकिन इन सबके बीच वायरस के नए स्वरूप की जानकारी नहीं मिल पा रही थी। मरीजों की अधिक तदादा की वजह से व्यवस्थाए चरमरा सी गयी थी। मरीज अस्पतालों में बेड, दावा, आक्सीजन आदि के लिए दर-दर भटकने को मजबूर थे। बीआरडी मेडिकल कॉलेज की माइक्रोबॉयोलॉजी विभाग ने अप्रैल और मई माह में कई मरीजों के नमूने लेकर जीनोम सीक्वेसिंग के लिए इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव (आईजीआईबी) दिल्ली भेजा था। मेडिकल कालेज के माइक्रोबाइलोजी विभाग के अध्यक्ष डॉ अमरेश सिंह की मुताबिक भेजे गए 30 मरीजों के नमूनों में 27 में डेल्टा, 2 में डेल्टा प्लस और 1 में कप्पा वैरिएंट की पुष्टि हुई है। इन नमूनों को 15-15 के रूप में दो बार में भेजा गया था। कप्पा वैरिएंट ने विदेशों में खासकर अमेरिका में जमकर कहर बरपाया था। प्रदेश में डेल्टा प्लस और कप्पा वैरिएंट का यह पहला मामला है। अब तक प्रदेश में केवल डेल्टा के मरीजों के मिलने की पुष्टि हुई थी। इस रिपोर्ट से विभाग में हड़कंप मच गया है। डेल्टा प्लस के दो मरीजों में 17 मई को पाजिटिव हुए देवरिया के 66 वर्षीय मरीज की संक्रमण के दौरान ही मौत हो गयी थी जबकि दूसरी मरीज लखनऊ की रहने वाली है और बीआरडी मेडिकल कालेज में एमबीबीएस की छात्रा है। 23 वर्षीय छात्रा 26 मई को कोरोना पाजिटिव हुई थी और अब स्वस्थ है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *