February 6, 2023
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • कोरोना संकट के बीच खुले केदारनाथ धाम के कपाट, भक्तों को पूजा की अनुमति नहीं

कोरोना संकट के बीच खुले केदारनाथ धाम के कपाट, भक्तों को पूजा की अनुमति नहीं

By Purvanchalnama Desk on May 17, 2021
0 125 Views

नई दिल्ली (एजेंसी)- उत्तराखंड में स्थित विश्व प्रसिद्ध भगवान केदारनाथ धाम के कपाट विधि विधान और पूजा अर्चना के बाद सोमवार सुबह 5 बजे खोल दिए गए। छह महीने के शीतकालीन अवकाश के बाद आज कपाट खोले गए। इस मौके पर पिछले साल की तरह इस बार भी कोरोना वायरस महामारी के कारण श्रद्धालु उपस्थित नही रहे। हालांकि उद्घाटन के स्थानीय लोगों की कमी साफ नजर आई। वहीं चमोली में स्थित भगवान बदरीनाथ के कपाट 18 मई को सुबह सवा चार बजे ब्रहममुहूर्त में खुल जाएंगे। वहां भी कोविड के कारण श्रद्धालुओं को आने की इजाजत नहीं दी गई है।

11 क्विंटल फूलों से सजाया गया मंदिर

केदारनाथ धाम में कपाट खुलने से पहले पूरे मंदिर को 11 क्विंटल फूलों से सजाया गया। भगवान भोलेनाथ की मंत्रमुग्ध करने वाली धुनों से केदारपुरी का वातावरण भक्तिमय बन गया। मंदिर के कपाट खोलने से पहले वो सभी तैयारियां की गई हो हर वर्ष की जाती है। सोमवार को केदारनाथ रावल भीमाशंकर और मंदिर के मुख्य पुजारी बागेश एवं प्रशासन की मौजूदगी में मंदिर के कपाट खोलेंगे। कोविड के कारण मुख्य द्वार खुलने के बाद भक्तों का मंदिर में प्रवेश करने पर रोक लगाई गई है। कोरोना संकट में केदारनाथ धाम श्रद्धालुओं के लिए पूरी तरह से बंद रहेगा। किसी भी तरह के तीर्थयात्रियों और स्थानीय भक्तों को मंदिर में दर्शन करने की अनुमति नहीं है।आपको बता दें कि गढ़वाल की अर्थव्यवस्था की रीढ़ मानी जाने वाली चारधाम यात्रा पर भी कोविड का साया पड़ा है। उत्तराखंड में कोरोना महामारी की दूसरी लहर का असर बहुत अधिक है। शहरी और ग्रामीण इलाकों में संक्रमण बहुत तेजी से फैल रहा है। कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए चारधाम यात्रा को फिलहाल स्थगित कर दिया गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *