February 7, 2023
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • विविधा
  • गोवा में चक्रवाती तूफान ने मचाई तबाही, कर्नाटक में 4 की मौत, गुजरात-महाराष्ट्र में भी अलर्ट

गोवा में चक्रवाती तूफान ने मचाई तबाही, कर्नाटक में 4 की मौत, गुजरात-महाराष्ट्र में भी अलर्ट

By Purvanchalnama Desk on May 16, 2021
0 163 Views

नई दिल्ली(एजेंसी)- अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान तौकते (Tauktae) को लेकर कई राज्यों में अलर्ट जारी है। एक तरफ जहां कर्नाटक में साइक्लोन के बीच तेज बारिश की वजह से 4 लोगों की मौत हो गई और राज्‍य में कुल 73 गांव चक्रवाती तूफान से प्रभावित हुए हैं। वहीं, Cyclone Tauktae गोवा के तटीय क्षेत्र से भी टकरा गया है। पणजी में इसका असर देखा गया। गोवा में चक्रवाती तूफान से भारी नुकसान की खबर है। सड़कों पर कई जगह पेड़ गिर गए हैं। गोवा के तट पर तेज हवाओं के साथ-साथ मूसलाधार बारिश भी हो रही है।

तूफान ने मचाई तबाही

महाराष्ट्र, केरल और गुजरात के तटों पर तीन दिनों तक इस चक्रवाती तूफान का असर देखने को मिल सकता है। विभाग के अनुसार, तूफान के दौरान 150 से 160 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं।गुजरात में चक्रवाती तूफान टाक्टे को देखते हुए राज्य में NDRF की टीमें तैनात की गई हैं। NDRF गांधीनगर के डिप्टी कमांडेंट रणविजय कुमार सिंह ने बताया, “24 टीमें आज शाम तक अपनी जगह ले लेंगी जिसमें 13 टीमें बाहर से मंगाई गई हैं।” चक्रवात अभी गोवा के तट से टकराया है। वहां भारी बारिश हुई है और पेड़ गिरे हैं।मौसम विभाग ने कहा है कि तूफान गुजरात के साथ केंद्रशासित दमन दीव और दादरा और नगर हवेली में तबाही मचा सकता है। तूफान के कारण केरल, तमिलनाडु में बाढ़ का खतरा पैदा होने के साथ कर्नाटक, गोवा और महाराष्ट्र में भारी बारिश होने की संभावना है।विभाग के मुताबिक, अगले तीन दिनों में यह तूफान केरल, गोवा, गुजरात और महाराष्ट्र में कहर बरपा सकता है, इसलिए एनडीआरएफ की टीमों की तैनाती कर दी गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भारत में आनेवाले ‘टाक्टे’ चक्रवाती तूफान की समीक्षा की और राज्यों में इसकी तैयारियों का जायजा लिया है। इसके लिए उन्होंने राज्यों, केंद्रीय मंत्रियों और संबंधित एजेंसियों के साथ बैठक की है। प्रधानमंत्री मोदी ने तूफान आने के दौरान आवश्यक सेवाओं जैसे बिजली, दूरसंचार, स्वास्थ्य और पानी आदि को तत्काल बहाल करने की पूरी तैयारी करने को कहा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *