February 5, 2023
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • दार्जिलिंग में बोले अमित शाह, NRC का अभी प्लान नहीं, अगर आया भी तो गोरखा लोगों को नहीं होगी दिक्कत

दार्जिलिंग में बोले अमित शाह, NRC का अभी प्लान नहीं, अगर आया भी तो गोरखा लोगों को नहीं होगी दिक्कत

By Purvanchalnama Desk on April 13, 2021
0 172 Views

नई दिल्ली(एजेंसी)- केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पश्चिम बंगाल में तीन पब्लिक मीटिंग और एक रोड शो करने पहुंचे हैं। दार्जीलिंग में गृह मंत्री शाह ने कहा कि आजादी के बाद से कांग्रेस, कम्युनिस्ट और दीदी(ममता बनर्जी) ने दार्जिलिंग के विकास पर पूर्ण विराम लगा दिया है। देश बहुत आगे निकल गया, मेरा दार्जिलिंग वहीं का वहीं रह गया। अमित शाह ने कहा कि दार्जीलिंग ने देश की आजादी के लिए बहुत बड़ी भूमिका निभाई है। दार्जिलिंग से मैं कह कर जाता हूं कि बंगाल में भाजपा सरकार बनने के बाद आंदोलन के जितने भी मुकदमें किसी भी गोरखा भाई पर है, सबके सब एक सप्ताह के अंदर वापस लेने का काम भाजपा करेगी।

बीजेपी और गोरखाओं की जोड़ी भगवान ने बनाई-अमित शाह

अमित शाह ने दावा से कहा कि बंगाल में 200 से ज्यादा सीटों के साथ सरकार बनेगी। वे बोले, अब दीदी इसे रोक नहीं पाएगी। उन्होंने कहा कि बंगाल चुनाव हम सभी की एक प्रकार से परीक्षा है। भाजपा और गोरखा की एकता को तोड़ने का घिनौना प्रयास TMC और दीदी ने किया है। दीदी और TMC को मुंहतोड़ जवाब देना है। उनको समझाना है कि ऐसे जुल्म करके आप हमें तोड़ नहीं सकती।अमित शाह ने कहा कि, ‘गोरखाओं का बहुत समृद्ध इतिहास रहा है। जब भी देशभक्त समुदायों का नाम लिया जाता है, तो गोरखाओं का नाम सबसे पहले गर्व से लिया जाता है। कांग्रेस-कम्युनिस्टों-टीएमसी की तिकड़ी ने सालों तक देश भर में गोरखाओं के साथ अन्याय किया।’
अमित शाह ने एलान किया कि दार्जिलिंग से मैं कह कर जाता हूं कि बंगाल में भाजपा सरकार बनने के बाद आंदोलन के जितने भी मुकदमें किसी भी गोरखा भाई पर है, सबके सब एक सप्ताह के अंदर वापस लेने का काम भाजपा करेगी।शाह बोले कि 2 मई को दार्जिलिंग में दिवाली होने वाली है। दो मई को पहाड़ पर आग नहीं लगेगी, दीए जलकर उत्सव मनाया जाएगा। चाय बागान श्रमिकों का वेतन बढ़ा कर 350 रुपए कर दिया जाएगा।अमित शाह ने कहा कि हम चाय बागान के श्रमिकों का वेतन बढ़ाकर 350 रुपए तक करेंगे। दार्जिलिंग में पीने के पानी की समस्या है, उसे दूर करने लिए हम 600 करोड़ रुपए निवेश करेंगे। उत्तर बंगाल के अंदर केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना करेंगे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *