February 7, 2023
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • सुप्रीम कोर्ट ने गैंगस्टर मुख्तार अंसारी को दो हफ्ते में पंजाब से यूपी जेल शिफ्ट करने का दिया आदेश

सुप्रीम कोर्ट ने गैंगस्टर मुख्तार अंसारी को दो हफ्ते में पंजाब से यूपी जेल शिफ्ट करने का दिया आदेश

By Purvanchalnama Desk on March 26, 2021
0 123 Views

नई दिल्ली(एजेंसी)- यूपी के बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। अंसारी इस वक्त पंजाब की एक जेल में कैद है।शीर्ष अदालत ने अंसारी को दो सप्ताह के भीतर उत्तर प्रदेश स्थानांतरित करने का आदेश दिया है।सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब सरकार को निर्देश दिया कि गैंगस्टर मुख्तार अंसारी को दो सप्ताह के अंदर उत्तर प्रदेश पुलिस के हवाले किया जाए। इस बार में सुप्रीम कोर्ट में पिछले काफी समय से सुनवाई चल रही थी।

पंजाब की रोपड़ जेल में बंद है मुख्तार अंसारी

मुख्तार अंसारी जनवरी 2019 से पंजाब की जेल में बंद है। मुख्तार अंसारी उत्तर प्रदेश में दर्जनों अपराधिक मामले में आरोपी है और यहां सारे मामले राज्य के अलग-अलग अदालतों में लंबित हैं। इन मामलों पर कार्रवाई नहीं हो पा रही है, क्योंकि मुख्तार अंसारी की पेशी नहीं हो पा रही है। मुख्तार ने कोर्ट को बताया था की वो उत्तर प्रदेश की जेल में नहीं जाना चाहते, क्योंकि वहां उन्हें जान का खतरा है।यूपी सरकार का कहना था कि मुख्तार अंसारी अदालती कार्रवाई से बचना चाहते हैं। पंजाब सरकार ने मुख्तार अंसारी का समर्थन करते हुए कहा था की मुख्तार की तबीयत ठीक नहीं है।इसलिए उन्हें पंजाब से बाहर ट्रांसफर नहीं किया जा सकता। अब सुप्रीम कोर्ट ने मुख्तार अंसारी को यूपी भेजने का आदेश दिया है। हाल ही में उत्तर प्रदेश के दौरे से लौटे पंजाब कांग्रेस सरकार के जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा विवादों में घिर गए हैं।इस दौरे के बाद उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री सिर्द्धाथ नाथ सिंह ने आरोप लगाया है कि वह यूपी आकर पंजाब की रोपड़ जेल में बंद बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी के करीबियों से मिले थे।पंजाब पुलिस मुख्तार अंसारी को 10 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगने के मामले में 2 साल पहले प्रॉडक्शन वॉरंट पर मोहाली ले आई थी। मुख्‍तार पर आरोप था कि मोहाली के एक बड़े बिल्डर को फोन करके खुद को मुख्तार अंसारी बताते हुए 10 करोड़ रुपये मांगे गए थे। 24 जनवरी 2019 को अदालत में पेश करने के बाद उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था, जांच के चलते तब से मुख्‍तार रोपड़ जेल में बंद हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *