Responsive Menu
Add more content here...
February 21, 2024
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • बिहार / झारखंड
  • बिहार में मौसम का बदला मिजाज: आंधी,बारिश व वज्रपात से कई लोगों की गई जान

बिहार में मौसम का बदला मिजाज: आंधी,बारिश व वज्रपात से कई लोगों की गई जान

By Nikhil Pal on May 10, 2021
0 262 Views

पटना-बिहार में मौसम का मिजाज बदल गया है। वज्रपात के कारण रविवार को पांच से सात लोगों की मौत बिहार में हुई है।उत्तर प्रदेश में बने चक्रवात के कारण राज्य में बारिश के आसार काफी बढ़ गए हैं। प्रदेश के ज्‍यादातर जिलों में तेज हवाओं के साथ बारिश और वज्रपात की आशंका मौसम विभाग ने जाहिर की है। पटना मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानियों का कहना है कि वर्तमान में पूर्वी उत्तर प्रदेश से लेकर असम तक एक ट्रफ लाइन गुजर रही है, जिससे प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में बारिश हो रही है। प्रदेश में सोमवार के लिए येलो अलर्ट जारी कर दिया गया है। ऐसे में घर से बाहर निकलने से बचें।

कई जिलों में येलो अलर्ट जारी

पटना मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानी संजय कुमार का कहना है कि वर्तमान में पूर्वी उत्तर प्रदेश में एक चक्रवात बना हुआ है। इसका सीधा असर बिहार पर पड़ रहा है। इसके अलावा एक ट्रफ लाइन पूर्वी उत्तर प्रदेश से असम तक गुजर रही है। इस ट्रफ लाइन को भारी मात्रा में नमी बंगाल की खाड़ी से मिल रही है, जिसके कारण प्रदेश के उत्तरी एवं पूर्वी भाग में आंधी चलने के साथ बारिश हो रही है। पिछले चौबीस घंटे में राज्य में सबसे ज्यादा बारिश दरभंगा में 14 मिलीमीटर बारिश हुई। वहीं, फारबिसगंज में 12 मिलीमीटर एवं सुपौल में चार मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड हुई। वहीं, बिहार, झारखंड एवं पश्चिमी बंगाल से जुड़े इलाके में भी एक चक्रवात बना हुआ है। उससे भी प्रदेश को काफी नमी मिल रही है।मौसम विज्ञानियों का कहना है कि यह प्री मानसून का दौर है। ऐसे में आंधी आना एवं बारिश होने होना स्वाभाविक है। इस तरह की स्थिति मध्य जून तक बनी रहेगी। प्रदेश में मध्य जून में मानसून आने की उम्मीद है। उसके बाद प्रदेश में मानसून की बरसात प्रारंभ हो जाएगी। इस वर्ष मानसून के दौरान राज्य में अच्छी बारिश होने की उम्मीद है। सामान्यत: प्रदेश में मानसून के दौरान 1000 मिलीमीटर बारिश होती है। अभी से थोड़ी देर पहले मौसम विभाग ने सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, सीवान, सारण के लिए दोबारा अलर्ट जारी किया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *