December 6, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • यूपी का बजटसत्र : सपा विधायकों के विरोध प्रदर्शन में शामिल नहीं हुए शिवपाल और अब्दुला आजम

यूपी का बजटसत्र : सपा विधायकों के विरोध प्रदर्शन में शामिल नहीं हुए शिवपाल और अब्दुला आजम

By Shakti Prakash Shrivastva on May 23, 2022
0 44 Views
शेयर न्यूज

शक्ति प्रकाश श्रीवास्तव

उत्तर प्रदेश में दुबारा बनी बीजेपी सरकार का पहला विधान सभा सत्र सोमवार को शुरू हो गया। चूंकि इसी सत्र में सरकार का बजट भी पेश होने वाला है लिहाजा इस सत्र को बजट सत्र भी कहा जा रहा है। सत्र का शुभारंभ पारंपरिक व्यवस्था के तहत महामहिम राज्यपाल आनंदी बेन पटेल के अभिभाषण से हुआ। हालांकि राज्यपाल के पूरे अभिभाषण वाचन के दौरान सपा विधायकों ने आगे खाली जगह (वेल) में पहुँच सरकार विरोधी नारे लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान उनके हाथों में कानून व्यवस्था, रोजगार, सस्ती बिजली, सस्ती सिंचाई की मांग लिखी तख्तियाँ थीं। सपा विधायकों की हौसला आफजाई कहें या नेता प्रतिपक्ष का धर्म निर्वहन करने के लिए ही सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव पूरे समय मौजूद रहे। पार्टी अध्यक्ष की मौजूदगी की वजह से सपा विधायकों में जबरदस्त उत्साह देखा गया। इस दौरान गौर करने वाली बात ये दिखी कि सपा के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ विजयी हुए सपा नेता शिवपाल यादव और कद्दावर सपाई मोहम्मद आजम खान के विधायक पुत्र अब्दुल आजम ने लगातार सपाइयों से दूरी बनाई रखी। शिवपाल सपाइयों के बीच रहते हुए भी थोड़ा अलग-थलग रहे वही अब्दुल आजम अपने सीट पर ही बैठे रहे। इन दोनों नेताओं ने न तो नारेबाजी की और न ही प्रदर्शन में शामिल हुए। शिवपाल की वजह तो साफ है कि वो भतीजे अखिलेश यादव से नाराज चल रहे है। बीच में तो उनकी बीजेपी शामिल होने के भी कयास लगने लगे थे। पिछले दिनों जेल में बंद मोहम्मद आजम खान से हुई मुलाकात के बाद से शिवपाल भी अखिलेश के विरोध में थोड़ा ज्यादा मुखर हो रहे है वही आजम खान अपनी सियासी सूझ-बूझ के चलते संदेश तो लगातार दे रहे है लेकिन मुखर हो कर नही बल्कि इशारों-इशारों में। जहां तक अब्दुल आजम का प्रश्न है उन्होंने सत्र की शुरुआत में ही विधायक पद की शपथ ली। क्योंकि जेल में निरुद्ध होने की वजह से वो शपथ नहीं ले पाए थे। उन्हे शपथ विधानसभा अध्यक्ष सतीश माहाना ने दिलाई। सदन में जहां विरोध कर रहे सपाई विधायकों ने लाल टोपी पहन रखी थी वहीं बीजेपी विधायकों ने भगवा टोपी पहन रखा था। सरकार 26 मई को विधानसभा में सरकार का बजट पेश करने वाली है। सूत्रों की मुताबिक सरकार का बजट लगभग छः लाख करोड़ के इर्द-गिर्द होने की उम्मीद है। बजट के स्वरूप के बाबत यह भी उम्मीद जताई जा रही है कि बजट में सरकार किसान, महिला सहित युवाओं के प्रति ज्यादा उदार दिख सकती है।


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *