# # # # # # #
लाइव
  • वाराणसी : सिटी स्टेशन पर रेलवे के सिग्नल स्टोर में देर रात लगी भीषण आग, आसपास के घरों में सहमे लोग

गाजीपुर: पांच नवंबर को ताकत दिखाएंगे राजभर

#
गाजीपुर : अक्सर सुर्खियों में बने रहने वाले सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष और पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर पांच नवंबर को अपनी ताकत दिखाएंगे। गाजीपुर जिले की जहूराबाद सीट से विधायक राजभर उस दिन लखनऊ के रमाबाई पार्क में अपनी पार्टी के 15वें स्थापना दिवस पर एक बड़ी रैली करने जा रहे हैं। राजभर का कहना है कि वह पांच नवंबर को कुछ न कुछ नया करेंगे। तभी वह अपना पत्ता खोलेंगे। अनुमान है कि निकाय चुनाव में समझौते की बात न बनने पर वह अलग से चुनाव लड़ने का एलान कर सकते हैं। राजभर ने बुधवार को लखनऊ स्थित अपने सरकारी आवास पर पत्रकारों से बातचीत में ये बातें कहीं। 

ओमप्रकाश ने कहा कि वह रैली के जरिये अति दलितों और अति पिछड़ों को जागरूक करेंगे। राजभर सीएम की तारीफ करते हैं, लेकिन यह कहने से नहीं चूकते कि 'कुछ ऐसे अधिकारी हैं जो सरकार को बदनाम करने में लगे हैं। ऐसे ही अधिकारियों की मिलीभगत से अवैध खनन जैसे भ्रष्टाचार हो रहे हैं।

नगर निकाय चुनाव में गठबंधन के लिए राजभर की भाजपा के प्रदेश महामंत्री संगठन से बातचीत हुई और गुरुवार को वह भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से भी मिलेंगे। राजभर ने बताया कि बंसल ने उन्हें गोरखपुर और काशी क्षेत्र के अध्यक्षों से बात करने को कहा है। बातचीत का प्रयास चल रहा है। अगर बात बन गई तो ठीक और नहीं बनी तो हमारे पहलवान तैयार हैं। 

गोंडा में हादसे के सवाल पर उन्होंने दावा किया कि 'मेरी गाड़ी से एक्सीडेंट नहीं हुआ। फोरेंसिक जांच में अगर मेरी गाड़ी से एक्सीडेंट निकल जाए तो इस्तीफा दे दूंगा लेकिन, चूंकि हमारे काफिले में दुर्घटना हुई इसलिए हमने अपने ड्राइवर और गाड़ी को पुलिस के पास भेज दिया। हालांकि पुलिस का यह दावा है कि चेकिंग के दौरान उसने ड्राइवर को गिरफ्तार किया। 

बता दें कि गाजीपुर, बलिया, आजमगढ़, बहराइच जैसे जिलों में राजभर समाज के लोग बड़ी तादाद में रहते हैं। ओमप्रकाश खुद को इसी तबके का नेता बताते हैं।