# # # # # # #
लाइव
  • वाराणसी : सिटी स्टेशन पर रेलवे के सिग्नल स्टोर में देर रात लगी भीषण आग, आसपास के घरों में सहमे लोग

वाराणसी : बीएचयू में फिर बवाल

#
वाराणसी : बीएचयू के छात्रों ने पांच दिनों के भीतर मंगलवार को एक बार फिर बवाल कर दिया। बिड़ला ‘ए’ हॉस्टल में जांच के लिए पहुंचे लंका थाने के दारोगा व सिपाही की मौजूदगी में आक्रोशित छात्रों ने दृश्य-कला संकाय के बीएफए चतुर्थ खंड के छात्र समीर यादव को फिर से पीट दिया। जिससे उसके चेहरे पर चोट लग गई। पांच दिन पहले मारपीट मामले की तफ्तीश के लिए पुलिस उसे साथ लेकर हॉस्टल गई थी। लेकिन, समीर को देखते ही उग्र हुए हॉस्टल के छात्रों ने उसे पीटने के साथ दारोगा व सिपाही को दौड़ा लिया। तोड़फोड़ की व ईंट-पत्थर चलाए। समीर को पिटता देख दारोगा और सिपाही भाग खड़े हुए। इस क्रम में सिपाही गिरकर जख्मी हो गया। बवाल से बिरला छात्रवास चौराहे पर काफी देर भगदड़ की स्थिति रही। इस बीच मौका पाकर समीर वहां से भागा और लंका थाने में तहरीर दी। साथ ही मेडिकल भी कराया। सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में पुलिस, पीएसी के अलावा मौके पर पहुंचे प्रॉक्टोरियल बोर्ड सदस्यों ने छात्रों को समझा-बुझाकर शांत कराया। 

गत एक सितंबर को बिरला छात्रवास के कुछ छात्रों ने दृश्य कला के छात्र समीर को कक्षा में घुसकर पीटा था। वहीं उसे छात्रवास उठा लाए थे और जमकर पिटाई की थी। इस संबंध में समीर ने लंका थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी। इसके अलावा दारोगा ने भी छात्रवास के छात्रों के खिलाफ सरकारी काम में बाधा पहुंचाने व हमला करने के मामले में लंका थाने में तहरीर दी है। मामले की जांच का जिम्मा लंका थाने के एसआइ रजनीश सिंह को सौंपा गया था। मंगलवार की शाम दारोगा रजनीश कुमार सिंह ने समीर को थाने बुलाया और मौका मुआयना के लिए छात्रावास चलने के लिए दबाव बनाया। कहा कि छात्रवास का नजरे नक्शा बनाना है। बार-बार कहने पर समीर एसआइ संग बिड़ला हॉस्टल जाने के लिए तैयार हो गया। साथ में एक सिपाही को लेकर हॉस्टल पहुंचे दारोगा ने जिस कमरे में पिटाई हुई थी, समीर से उसे दिखाने को कहा। 

इसी दौरान जब हॉस्टल के छात्रों की नजर पुलिस के साथ आए समीर पर पड़ी तो वे आक्रोशित हो गए और घेरकर पीटने लगे। छात्रों ने दारोगा के साथ भी र्दुव्‍यवहार शुरू कर दिया। उनका आक्रोश देख दारोगा को सिपाही के साथ भागना पड़ा। उन्होंने बिड़ला चौराहे के पास खड़ी एक बाइक व आधा दर्जन कुर्सियां तोड़ दीं। जब पुलिस और पीएसी संग विवि के अधिकारी पहुंचे तब वे शांत हुए। उधर, लंका थाने में दी तहरीर में समीर ने आशुतोष सिंह, गौरव सिंह, शिवम पर साथियों संग जानलेवा हमला करने व सोने की चेन छीनने का आरोप लगाया है।