# # # # # # #
लाइव
  • वाराणसी : सिटी स्टेशन पर रेलवे के सिग्नल स्टोर में देर रात लगी भीषण आग, आसपास के घरों में सहमे लोग

वाराणसी : विद्यापीठ से जुड़ेगा गांधी विद्या संस्थान

#
वाराणसी : अगर सरकार ने अनुमति दी तो राजघाट स्थित गांधी विद्या संस्थान, महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ का हिस्सा हो जाएगा। इस विलय के लिए काशी विद्यापीठ के कुलपति ने शासन को प्रस्ताव भेजा है। शासन इस पर विचार भी कर रहा है। केंद्र सरकार छोटे संस्थाओं का पृथक अस्तित्व खत्म करने की दिशा में तेजी से काम कर रही है। ऐसे संस्थाओं को किसी न किसी बड़ी संस्था से संबद्ध किया जा रहा है। हाल में ही आगरा स्थित हिंदी संस्थान को काशी हिंदू विश्वविद्यालय से संबद्ध कर दिया गया। 

इसे देखते हुए काशी विद्यापीठ के कुलपति डॉ. पृथ्वीश नाग ने गांधी विद्या संस्थान के विलय संबंधी प्रस्ताव राज्यपाल व कुलाधिपति के अलावा उच्च शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव को भेजा है। इसमें कहा गया है कि जयप्रकाश नारायण के प्रयास से जनपद में स्थापित गांधी विद्या संस्थान बंद होने के कगार पर है। संस्थान पर अनाधिकृत लोगों का प्रभाव बढ़ रहा है। ऐसे में यदि इसका विद्यापीठ के गांधी अध्ययनपीठ में विलय कर दिया जाय तो संस्थान का अस्तित्व बचा रहेगा। साथ ही संसाधन के मामले में भी वह समृद्ध होगा और उसे प्रशासनिक व शासकीय संरक्षण मिल जाएगा। वहीं स्थान की कमी से जूझ रहे विश्वविद्यालय का विस्तार आसान हो जाएगा। कुलपति ने पत्र में लिखा है कि महात्मा गांधी से जुड़ी दोनों संस्थाओं में काफी समानताएं हैं।