# # # # # # #
लाइव
  • वाराणसी : सिटी स्टेशन पर रेलवे के सिग्नल स्टोर में देर रात लगी भीषण आग, आसपास के घरों में सहमे लोग

आजमगढ़: डेंगू जांच के लिए लैब तैयार

#
आजमगढ़ : डेंगू होने पर अब लोगों को जांच के लिए वाराणसी या लखनऊ का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। लाखों रुपए की लागत से जिला अस्पताल में डेंगू जांच की सारी सुविधाएं उपलब्ध करा दी गई हैं। यहां दो दिन पूर्व ही सेंटिनल लैब स्थापित कर दिया गया है। डेंगू के मरीजों को यह बता दिया जाएगा कि उनकी प्लेटलेट कितनी कम है। किस तरह का इलाज करना है। मरीजों की जान आसानी से बचाई जा सकती है।

जिले में डेंगू के मरीजों की जांच की सुविधा अभी तक नहीं थी। इसकी वजह से डेंगू की जांच के लिए मरीजों को वाराणसी या लखनऊ जाना पड़ता था। लाखों की लागत से सेंटिनल लैब पर छह माह पूर्व से ही कार्य शुरू हो गया था। यह कार्य अब पूर्ण हो गया है। अब किसी भी डेंगू मरीज की शिकायत पर वह तुरंत जिला अस्पताल से संपर्क कर सकता है। यही नहीं प्राइवेट में भी अगर किसी डाक्टर को डेंगू का शक दिखता है तो सीएमओ को लिखेगा। सीएमओ के निर्देश पर डेंगू जांच होगी। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एसके तिवारी ने बताया कि प्राइवेट डॉक्टरों के लिए भी डेंगू के जांच की निशुल्क सुविधा उपलब्ध रहेगी। प्राइवेट में इस जांच के लिए 2600 रुपए देने पड़ते हैं।


डेंगू की पहचान

-सिर और आंखों में दर्द होता है।

-शरीर और जोड़ों में दर्द में होता है।

-भूख कम लगती है।

-जी मचलाना, उल्टी और दस्त आने लगते हैं।

-चमड़ी के नीचे लाल धब्बे आने शुरु हो जाते हैं

-डेंगू के लक्षण तीन से 14 दिन बाद दिखते हैं।

-तेज ठंड लगकर बु़खार आता है।

-गंभीर स्थिति में आंख, नाक से खून आ जाता है।