Responsive Menu
Add more content here...
July 21, 2024
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • विविधा
  • पीएम मोदी ने की उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता, कोविड-19 से उपजे हालात का लिया जायजा

पीएम मोदी ने की उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता, कोविड-19 से उपजे हालात का लिया जायजा

By Nikhil Pal on May 15, 2021
0 270 Views

नई दिल्ली(एजेंसी)- देश में कोरोना महामारी के ताजा हालात और टीकाकरण की स्थिति पर पीएम मोदी ने एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।इस अहम बैठक में कोरोना के ताजा हालात और टीकाकरण की स्थिति पर चर्चा हुई है। इस बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के वैज्ञानिक भी मौजूद रहे।इससे पहले बुधवार को प्रधानमंत्री मोदी ने ऑक्सीजन व दवाओं के सप्लाई व उपलब्धता की समीक्षा के लिए बैठक की थी। प्रधानमंत्री ने बताया कि देशभर के सरकारी अस्पतालों में मुफ्त वैक्सीनेशन किया जा रहा है इसलिए जब भी आपकी बारी आए तो वैक्सीन ज़रूर लें।

पीएम ने लिया वैक्सीनेशन का जायजा

पीएम मोदी ने शुक्रवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि कोविड-19 महामारी में देशवासी जो कष्‍ट झेल रहे हैं, वे उसे महसूस कर रहे हैं। मोदी ने ‘पीएम किसान’ की 8वीं किस्‍त ट्रांसफर करते हुए कहा था, “बीते कुछ समय से जो कष्ट देशवासियों ने सहा है, उसे मैं भी उतना ही महसूस कर रहा हूं। देश का प्रधान सेवक होने के नाते, आपकी हर भावना का मैं सहभागी हूं। कोरोना की सेकेंड वेव से मुकाबले में संसाधनों से जुड़े सभी गतिरोध तेजी से दूर किए जा रहे हैं। हम लड़ेंगे और जीतेंगे।”पीएम ने कहा था कि ‘100 साल बाद आई इतनी भीषण महामारी कदम-कदम पर दुनिया की परीक्षा ले रही है। हमारे सामने एक अदृश्य दुश्मन है। हम अपने बहुत से करीबियों को खो चुके हैं।’ उन्‍होंने देशवासियों से जल्‍द से जल्‍द टीका लगवाने की अपील भी की।पीएम ने कहा था, “देशभर के सरकारी अस्पतालों में मुफ्त टीकाकरण किया जा रहा है। इसलिए जब भी आपकी बारी आए तो टीका जरूर लगाएं। ये टीका हमें कोरोना के विरुद्ध सुरक्षा कवच देगा, गंभीर बीमारी की आशंका को कम करेगा।”प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को सभी राज्यों को ऑक्सिजन सिलिंडर के जमाखोरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया। मोदी ने कहा, ‘हमारे तीन सशस्त्र बल जरूरतमंदों की सेवा करने की कोशिश कर रहे हैं और कोविड संकट के बीच ऑक्सिजन ट्रेनें लगातार ऑक्सिजन सिलिंडर भेज रही हैं। लेकिन ऐसे कई लोग हैं, जो ऑक्सिजन की जमाखोरी में शामिल हैं। राज्यों को ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।’

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *