Responsive Menu
Add more content here...
June 16, 2024
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

कुछ का कुछ बोल रहे है नीतीश!

By Shakti Prakash Shrivastva on May 29, 2024
0 19 Views

                                                                                                  शक्ति प्रकाश श्रीवास्तव

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस बार जबसे राजद से तलाक और बीजेपी से गठजोड़ कर मुख्यमंत्री बने है तबसे उनके बात-व्यवहार में एक नई तब्दीली देखने में आ रही है। वो है उनका बात-बात में कुछ का कुछ बोल जाना। कभी-कभी तो एकदम अप्रासंगिक चर्चा कर देते हैं। याद करिए जब नीतीश ने आदमी-औरत के रिश्ते पर टिप्पणी की थी और उसके लिए उन्हे जगह-जगह शर्मशार होना पड़ा था। लेकिन इस वाकये के बाद भी नीतीश के बात-व्यवहार में कोई खास फर्क नहीं आया। आज भी अपने सम्बोधन में कई बार अप्रासंगिक चर्चा कर ही देते है। यह अलग बात है कि पार्टी और उनके लोग इसको स्लिप आफ टंग यानि जुबान का फिसलन करार दे इस कमी को ढकने की कोशिश करते है। लेकिन ऐसा करना उनका मतिभ्रम ही है क्योंकि सोशल मीडिया के मौजूदा दौर में ऐसी दलीलें बेमानी साबित होती है। हालिया नीतीश की ऐसी गलती अड़तालीस घंटे पहले यानि बीते रविवार को ही देखने-सुनने को मिली। इस बार फिर से एक सभा में नीतीश कुमार की जुबान फिसल गई। इस बार उन्होंने उपस्थित जनसमूह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मुख्यमंत्री बनने की कामना कर दी। उनका यह बयान भी पिछले बयानो की तरह ही खूब वायरल हुआ।

हुआ ये कि रविवार को पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र के दनियावां इलाके में बीजेपी नेता और एनडीए प्रत्याशी रविशंकर प्रसाद के समर्थन में जनसभा का आयोजन किया गया था। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मंच पर भाषण दे रहे थे। इसी दौरान उन्होंने भाषण के बीच लोगों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक बार फिर 400 से अधिक सीटों के साथ मुख्यमंत्री बनाने की बात कही।

जैसे ही अपने उद्बोधन में नीतीश कुमार ने ऐसी बात का उल्लेख किया उपस्थित सभा के अधिकांशतः लोग चौंक गए। वहां उपस्थित अन्य नेताओं ने मुख्यमंत्री नीतीश की इस गलती का एहसास कराया। नीतीश तुरंत अपने इस गलती का एहसास करते हुए उसे सम्बोधन में दुरुस्त किया। लेकिन कहावत है बंदूक से निकली गोली और मुंह से निकली बोली कभी वापस नहीं होती। यही हुआ और नीतीश पहले की तरह एक बारफिर बयानों की वजह से सुर्खियों में छा गए।

ऐसा नहीं कि नीतीश के साथ ये पहली बार हुआ है। बल्कि नीतीश अक्सर ऐसी टिप्पणिया कर दिया कर रहे हैं। इससे पहले भी नीतीश कुमार की जुबान कई बार फिसल चुकी है। बीते 19 मई को ही वैशाली में चुनाव प्रचार के दौरान लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) की प्रत्याशी वीणा देवी के समर्थन में भाषण देते हुए उन्होंने बिहार की सभी 40 सीटों पर एनडीए को जीत हासिल हो और देश भर में हमारा गठबंधन चार हजार सीटों पर जीत हासिल करे जैसे बयान दिए थे। ऐसे ही एक बार दिवंगत नेता राम विलास पासवान के लिए वोट मांगने लगे थे।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *