September 27, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • हिमंत बिस्वा सरमा होंगें असम के नए मुख्यमंत्री, चुने गए भाजपा विधायक दल के नेता

हिमंत बिस्वा सरमा होंगें असम के नए मुख्यमंत्री, चुने गए भाजपा विधायक दल के नेता

By Purvanchalnama Desk on May 9, 2021
0 146 Views
शेयर न्यूज

नई दिल्ली(एजेंसी)-असम के नए मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा होंगे। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया है।वहीं गुवाहाटी में बीजेपी विधायकों की बैठक में हिमंत बिस्वा सरमा नाम पर मुहर लग गई अब वे असम के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।हिमंत बिस्वा सरमा और सर्बानंद सोनोवाल इनमें से कौन राज्य की कमान संभालेगा इसे लेकर काफी मंथन हुआ और शनिवार को दोनों दिल्ली भी बुलाए गए, आखिर बाजी हिमंत बिस्वा सरमा के हाथों ही लगी और अब वो प्रदेश की कमान संभालने जा रहे हैं।

चुने गए विधायक दल के नेता

असम में लगातार दूसरी बार बीजेपी के नेतृत्व में एनडीए की सरकार बनने के पीछे हिमंत बिस्वा सरमा की जबर्दस्त मेहनत बताई जाती है कहा जाता है कि वो लोकप्रियकता के मामले में सर्बानंद सोनोवाल से किसी भी मायने में कम नहीं हैं और इस चुनाव में उनका का जोरदार प्रचार अभियान, तेज व आक्रामक रणनीति बीजेपी की जीत की अहम वजह रही जिसके चलते पार्टी ने उन्हें सर्बानंद की जगह सीएम पद पर ज्यादा उपर्युक्त माना।हिमंत बिस्वा सरमा असम की जालुकबारी विधानसभा सीट से लगातार पांचवीं बार विधायक बने हैं। 2021 में जालुकबारी में करीब 77 फीसदी वोट पड़े। बीजेपी के हिमंता बिस्वा शर्मा ने इंडियन नेशनल कांग्रेस के रामेन चंद्र बोरठाकुर को 101911 वोटों के मार्जिन से हराया था,हाल में सीएए विरोधी प्रदर्शन और कोरोना के हालात को संभालने में उनकी अहम भूमिका रही है।हिमंत बिस्वा सरमा ने 2015 में कांग्रेस से मतभेद के बाद हाथ का साथ छोड़ कमल का दामन थामा था। बताते हैं कि पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई के साथ राजनीतिक मतभेदों के बाद उन्होंने कांग्रेस पार्टी के सभी विभागों से इस्तीफा दे दिया था।बाद में वो भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए।साल 2016 के विधानसभा चुनाव के ऐन पहले बिस्वा सरमा को मुख्यमंत्री पद के सशक्त दावेदार के तौर पर देखा जा रहा था लेकिन तब जीत का परचम फहराने के बाद पार्टी ने सोनोवाल को राज्य का सीएम बनाया था।हिमंता बिस्वा सरमा का जन्म 1 फरवरी 1969 हुआ था, उन्होंने 2001 से 2015 तक भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के टिकट से असम के जलकुबारी निर्वाचन क्षेत्र से विधानसभा के रूप में और मई 2016 तक भारतीय जनता पार्टी के सदस्य के रूप में विधायक के रूप में सेवा की है। शर्मा 2016 की असम विधानसभा में चुने जाने के बाद असम के कैबिनेट मंत्री बने,और अब पार्टी ने उन्हें सीएम बनाने का फैसला किया है।


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published.