July 6, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • यूपी : ‘अग्निपथ’ पर बागी हुआ बलिया, कई शहरों में बवाल

यूपी : ‘अग्निपथ’ पर बागी हुआ बलिया, कई शहरों में बवाल

By Shakti Prakash Shrivastva on June 17, 2022
0 11 Views
शेयर न्यूज

पूर्वाञ्चलनामा डेस्क

लखनऊ। सेना में चार साल की भर्ती प्रक्रिया के तहत केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में शुक्रवार को भी उत्तर प्रदेश के कई शहरों में विरोध प्रदर्शन हुआ। प्रदेश के बनारस, मऊ, आजमगढ़, जौनपुर, अलीगढ़, सहारनपुर सहित कई शहरों में सुबह से ही माहौल गरमाया रहा। लेकिन बलिया जिले में बवाल कुछ ज्यादा ही मुखर हो गया। यहाँ आंदोलनकारियों ने रेलवे स्टेशन के वॉशिंग पिट में खड़ी ट्रेन के डिब्बों में आग लगा दी। बुधवार-गुरुवार को जैसे ही बेरोजगार युवाओं को भारतीय सेना में चार साल के लिए की जाने वाली भर्ती प्रक्रिया आगाज हुआ। देशभर में इसको लेकर हंगामा शुरू हो गया। योजना के विरोध की आंच शुक्रवार को वाराणसी समेत पूर्वांचल में पहुंच गई। सुबह से ही जगह-जगह सेना भर्ती की तैयारी में जुटे युवाओं ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। बनारस से लेकर बलिया तक जबरदस्त हंगामा हो रहा है। कई जगह से पथराव, तोड़फोड़ और आगजनी की सूचना आई है। वाराणसी कैंट स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 10 के पास आगजनी की गई। करीब पांच घंटे तक जारी हंगामे के बाद उपद्रवियों को खदेड़ कर पुलिस ने शांति बहाल की। कई दर्जन युवाओं को हिरासत में भी लिया गया है। सेना भर्ती की तैयारी कर रहे मऊ के युवाओं ने सुबह करीब 10 बजे नेशनल हाईवे अमिला-थानीदास मार्ग को जाम कर दिया। गोरखपुर की तरफ से मऊ आ रही काशी डिपो की बस पर पथराव कर दिया। इससे बस का शीशा टूटने के साथ ही एक दर्जन से अधिक यात्री घायल हो गए।  आजमगढ़-गोरखपुर मार्ग पर लाटघाट पुरानी सरयू नदी पुल पर शुक्रवार को सेना भर्ती की तैयारी कर रहे युवाओं चक्काजाम कर दिया। जिससे आजमगढ़-गोरखपुर मार्ग पर  आवागमन आधे घंटे तक ठप रहा। सूचना मिलते ही काफी संख्या में पुलिस बल, एसएसबी और सीआरपी के जवानों के साथ अधिकारी पहुंचे और युवाओं को हटाकर आवागमन शुरू कराया। कैंट रोडवेज, चौकाघाट, सिगरा, चौबेपुर, सारनाथ सहित कई अन्य इलाकों में युवा योजना के विरोध में नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन और हंगामा किया। प्रदर्शन के दौरान चौकाघाट, सिगरा और लहरतारा में पथराव कर बसों के शीशे तोड़े गए। सिगरा, इंग्लिशिया लाइन क्षेत्र में दुकानों में भी तोड़फोड़ की गई। वाराणसी से गाजीपुर मार्ग और वाराणसी-जौनपुर मार्ग पर वाहनों की लंबी कतार लगी है। महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के छात्रों ने सिगरा रोड पर तोड़फोड़ करने  वालों को पकड़कर पीटा और पुलिस को सौंपा। कैंट स्टेशन के मालगोदाम की ओर रेलवे ट्रैक पर युवकों ने आग लगा दिया। रोकने पहुंची पुलिस पर पथराव कर दिया। घटना में सिगरा इंस्पेक्टर सहित चारी  सिपाही चोटिल हो गए। 12 युवकों को सिगरा पुलिस ने हिरासत में लिया है। फौर्स की तैनाती बढ़ा दी गई है। जिलाधिकारी और पुलिस आयुक्त कैंट रेलवे स्टेशन पहुंचे। कैंट निदेशक सहित रेलवे सुरक्षा एजेंसियों बैठक कर रहे हैं। जौनपुर में भी वाजिदपुर तिराहे पर 100 से ज्यादा युवा इकट्ठा होकर चक्का जाम कर दिए हैं। मौके पर पहुंचे ज्वाइंट मजिस्ट्रेट मानसून नागपाल ने समझाते हुए उन्हें किसी तरह फिलहाल शांत कराया है। कुछ देर के लिए वाराणसी-जौनपुर मार्ग पर वाहनों की लगी लंबी लाइन लग गई थी। कंट्रोल रूम की सूचना पर सुरक्षा की दृष्टिकोण से जगह-जगह ट्रेनें रोक दी गई हैं। श्रीकृष्ण नगर रेलवे स्टेशन पर बेगमपुरा एक्सप्रेस को रोक दी गई है। इसके अलावा इंदौर से कामाख्या जाने वाली कामाख्या एक्सप्रेस ट्रेन को सवा नौ बजे से रोक दिया गया है। इससे यात्री परेशान हैं। अन्य स्थानों की तुलना में बलिया में अग्निपथ योजना का विरोध कुछ ज्यादा ही दिखा। युवाओं ने बलिया रेलवे स्टेशन पर तोड़फोड़ की। पुलिस ने रोकने का प्रयास किया तो उनके ऊपर पथराव शुरू कर दिया। मेमू और पैसेंजर ट्रेन पर पथराव करके तोड़ दिया। रेलवे लाइन पर खड़ी एक ट्रेन की खाली बोगी में आग लगा दिया गया। कई दर्जन युवाओं को हिरासत में लिया गया है। अग्निपथ योजना के विरोध में युवाओं का धरना प्रदर्शन जारी है।


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *