January 18, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • कोरोना का कहर : यूपी में बढ़ी रफ्तार, ओमिक्रान का भी ब्लास्ट

कोरोना का कहर : यूपी में बढ़ी रफ्तार, ओमिक्रान का भी ब्लास्ट

By Shakti Prakash Shrivastva on January 4, 2022
0 25 Views
शेयर न्यूज

              लखनऊ, (संवाददाता)। कोरोना के बेलगाम दूसरी लहर पर अपने ट्रेस,टेस्ट और ट्रीट फार्मूले के कारण प्रभावी लगाम लगाने में  कामयाब प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार एक बार फिर कोरोना को लेकर चिंतित है। वजह है राज्य में तेजी से कोरोना मरीजों की संख्या में हो रही बढ़ोत्तरी। पिछले 48 घंटों में मरीजों की संख्या में दोगुनी वृद्धि हुई है। वर्तमान में प्रदेश के 75 में से 73 जिलों में फिर जा पहुंचा है कोरोना। पिछले 24 घंटों में नए मिले 992 मरीजों में गाजियाबाद, नोएडा और लखनऊ में 150 से अधिक मरीज मिले है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की वजह से सक्रिय मामलों की तादाद 3,173 तक पहुंच गयी हैं।

स्वास्थ्य विभाग की मुताबिक यूपी में नए मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है जबकि रिकवरी कम हो रही है। इस आंकड़ों ने डॉक्टरों की चिंता भी बढ़ा दी है। मंगलवार को महज 77 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। विशेषज्ञों का मानना है कि अगर लोग नहीं संभले और कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया तो आने वाले दिनों में स्थिति भयावह हो सकती है। कोरोना का नया वैरिएंट इस बार छोटे बच्चों को भी निशाना बना रही है। पिछले 24 घंटे में लखनऊ में 10 साल के बच्चे सहित कुल 8 बच्चे संक्रमित मिले है।  इतना ही नहीं प्रदेश में अब ओमिक्रान ने भी दस्तक दे दी है। एक दिन में 18 नए ओमिक्रॉन के मरीज मिले हैं। इससे पहले प्रदेश में ओमिक्रॉन संक्रमित आठ मरीज मिल चुके हैं। यानी अब प्रदेश में ओमिक्रॉन संक्रमित मरीजों की संख्या 23 हो गई है। यूपी में सबसे पहले गाजियाबाद में 17 दिसंबर को पति-पत्नी में ओमिक्रॉन संक्रमण की पुष्टि हुई थी। इसके बाद रायबरेली-मेरठ में एक-एक, मुजफ्फरनगर में 3 और गौतमबुद्ध नगर में भी एक व्यक्ति की जीनोम सिक्वेंसिंग रिपोर्ट में ओमिक्रॉन वैरिएंट की पुष्टि हुई है। सरकार ने इस स्थिति को देखते हुए प्रदेश में 6 जनवरी से नए नियम लागू करने की घोषणा की है। इसके तहत रात्रिकालीन कर्फ़्यू का समय बढ़ाते हुए अब 10 बजे रात्रि से सुबह 9 बजे तक कर दिया गया है। प्रदेश में 10वीं तक के सभी विद्यालयों में मकर संक्रांति तक अवकाश होगा। 1000 मामलों की स्थिति में जिलों में सिनेमाघरों, जिम, बेंक्वेट हाल, स्पा आदि व शादी समारोहों में उपस्थिती 50 फीसद रहेगी। राजकीय कार्यालयों, ट्रस्ट, कंपनियों,स्मारकों कार्यालयों,धार्मिक स्थलों,होटल, रेस्त्रां,औद्योगिक इकाइयों में कोविड हेल्प डेस्क बनाने के निर्देश दिये गए हैं। प्रयागराज माघ मेला मे श्रद्धालुओं को 48 घंटे के अंदर का आरटीपीसीआर रिपोर्ट देना होगा अन्यथा प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। यूपी के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा व स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक 3 जनवरी को प्रदेश में 12 लाख 18 हजार 689 लोगों को वैक्सीन की डोज लगी। सोमवार से ही प्रदेश में 15 साल से 18 तक के बच्चों के कोवैक्सी की डोज लगनी शुरू हुई है। बच्चों के टीकाकरण के दिन व उसके अगले दिन वैक्सीनेटेड बच्चों को अवकाश की सुविधा मिलेगी। यदि स्कूल में वैक्सीनेशन कैम्प लगाएं जाते हैं तो उसके अगले दिन स्कूल में भी अवकाश रहेगा।

 


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *