August 12, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • दिल्ली / एन सी आर
  • सावधान : दबे पाँव आ रही है देश में कोरोना की तीसरी लहर ! 24 घंटे में 43 हजार नए केस

सावधान : दबे पाँव आ रही है देश में कोरोना की तीसरी लहर ! 24 घंटे में 43 हजार नए केस

By Shakti Prakash Shrivastva on July 28, 2021
0 262 Views
शेयर न्यूज

नयी दिल्ली, (संवाददाता)। एक बार फिर समय आ गया है कि देशवासी सावधान हो जाये। क्योंकि कोरोना की तीसरी लहर मुहाने पर खड़ी दिख रही है। देश में अनलाक होने के बाद जिस तरह बाज़ारों, सार्वजनिक स्थानों पर बिना कोरोना प्रोटोकाल के भीड़ देखी जा रही है कहीं उसी का खामियाजा तो नहीं भुगतने जा रहा है देश। क्योंकि पिछले चौबीस घंटे के कोरोना मामलों के आंकड़े देखें तो पता चलता है कि 43 हजार नए कोरोना के मामले दर्ज हुए हैं। जबकि एक दिन पहले मंगलवार को ये संख्या महज तीस हजार थी। लेकिन एक दिन के भीतर ही यह संख्या बढ़कर तैंतालीस हजार हो गयी है।

इधर कुछ दिनों से देश में लगातार कोरोना के मामले में उतार-चढ़ाव जारी है। कभी संख्या कुछ कम हो जाती है तो कभी बढ़ जाती है। लेकिन बुधवार को जिस तरह आंकड़े निकल कर आए है वो चिंता बढ़ाने के लिए काफी हैं। क्योंकि महज चौबीस घंटे में 43 हजार नए मामले का मिलना और 640 लोगों की हुई मौत आने वाले भयावह स्थिति का संकेत दे रही है। पूरे देश में जो मामले आ रहे हैं उनमें आधे से अधिक मामले सिर्फ एक राज्य केरल से हैं। मंगलवार को केरल में कोरोना के 22 हजार 129 नए मामले आए हैं। पिछले डेढ महीने में पहली बार किसी राज्य में कोरोना के 20 हजार से ज्यादा मामले एक दिन में मिले हैं। राज्य में एक दिन के अंदर 156 लोगों की मौत हुई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटे के दौरान देश में कुल 43 हजार 654 नए मामले दर्ज किए गए, जबकि 640 लोगों की मौत हो गई। वहीं 41, 678 लोग स्वस्थ्य हुए हैं। देश में अब तक कुल संक्रमितों की संख्या 3,99,436 हो चुकी है, जिनमें 3,06,63,147 मरीज ठीक हो गए। वहीं कुल मौत का आंकड़ा 4,22,022 पहुंच चुका है। राहत की बात यह है कि देश में अब तक 44,61,56,659 लोगों को कोरोना वैक्सीन लग चुकी है। देश में कोरोना से ठीक होने वालों की दर फिलहाल 97.39 फीसदी पर है। वहीं, दैनिक संक्रमण दर 5 फीसदी से नीचे है। राज्यों की सरकारें लगातार लोगों से कोरोना प्रोटोकाल का अनुपालन करने को कह रही है लेकिन अधिकांश लोगों पर इसका कोई असर नहीं देखा जा रहा है। अगर यह स्थिति ऐसी ही रही तो वो दिन दूर नहीं जो एक बार फिर समूचा देश अपनी लापरवाही से बुलाई गयी समस्या से जूझने को मजबूर होगा।

 


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *