June 30, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • दिल्ली / एन सी आर
  • IT मंत्री की सख्ती से बैकफुट पर ट्वीटर : किया रेजिडेंट ग्रीवांस ऑफिसर की नियुक्ति

IT मंत्री की सख्ती से बैकफुट पर ट्वीटर : किया रेजिडेंट ग्रीवांस ऑफिसर की नियुक्ति

By Shakti Prakash Shrivastva on July 11, 2021
0 92 Views
शेयर न्यूज

नयी दिल्ली, (एजेंसी)। केंद्रीय IT मंत्री की सख्ती का ट्वीटर पर असर हुआ है। डेढ़ महीने बाद ही सही ट्वीटर ने केंद्र सरकार के नए नियमों को मानते हुए भारत में अपना रेजिडेंट ग्रीवांस ऑफिसर नियुक्त कर दिया है। ट्वीटर की आधिकारिक वेबसाइट की मुताबिक विनय प्रकाश को नया आरजीओ (रेजिडेंट ग्रीवांस ऑफिसर) बनाया गया है।

केंद्र सरकार ने 25 फरवरी, 2021 को देश में नया IT कानून लागू किया था। ट्वीटर द्वारा इन नियमों का 3 महीने के भीतर यानि कि 25 मई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाना था। सरकार के नए IT मंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस बाबत ट्वीटर को जब कड़ी चेतावनी दी तब ट्वीटर प्रशासन हरकत में आया और आनन-फानन में डेड लाइन बीतने के 46 दिन बाद शिकायत अधिकारी की नियुक्ति कर नियमों का अनुपालन सुनिश्चित किया। 27 जून को ही ट्विटर इंडिया के अंतरिम शिकायत अधिकारी धर्मेंद्र चतुर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। ट्वीटर ने 26 मई से 25 जून 2021 के बीच की अपनी पहली ग्रीवांस रीड्रेसल रिपोर्ट (अनुपालना रिपोर्ट) भी प्रस्तुत की। नए नियमों के मुताबिक इस रिपोर्ट को पेश करना अनिवार्य कर दिया गया था। रिपोर्ट के मुताबिक, माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ने उत्पीड़न से लेकर प्राइवेसी के उल्लंघन जैसी वजहों से 133 पोस्ट के खिलाफ कार्रवाई करने का दावा किया है और 18,000 से अधिक अकाउंट्स को बाल यौन शोषण और अश्लीलता की वजह से सस्पेंड भी किया है। ट्वीटर की मुताबिक ट्विटर अकाउंट सस्पेंशन से जुड़ी 56 शिकायतों पर कार्रवाई की गयी। इन सभी शिकायतों का समाधान भी किया गया और जरूरी रेस्पॉन्स संबंधित को भेजे गए। इनमें से 7 अकाउंट्स को हालात के मद्देनजर फिर से बहाल भी किए गए। दिल्ली हाईकोर्ट और संसदीय समिति ने ट्विटर से साफ शब्दों में कहा था कि देश का कानून सबसे ऊपर है और उसे मानना ही होगा। नए कानून न मानने की वजह से ही ट्विटर ने भारत में थर्ड पार्टी कंटेंट के लिए लीगल शील्ड को खो दी थी। इस स्थिति में ट्विटर के ऊपर आईपीसी की धाराओं के तहत कार्रवाई हो सकती है। अब जब उसने कानून मानना शुरू कर दिया है, ऐसे में सरकार इस पर दोबारा विचार कर सकती है। 25 जून को ट्विटर ने अमेरिकी कॉपी राइट एक्ट का हवाला देते हुए पूर्व IT मंत्री रविशंकर प्रसाद का अकाउंट एक घंटे के लिए ब्लॉक कर दिया था। इसके बाद ट्विटर पर 5 केस दर्ज किए गए थे।


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *