July 5, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • पूर्वांचल न्यूज
  • ये हैं ‘योगी’ : सैकड़ों जान बचाने वाली डॉ. शारदा की जान बचाने के लिए खोला खजाना, दिये डेढ़ करोड़

ये हैं ‘योगी’ : सैकड़ों जान बचाने वाली डॉ. शारदा की जान बचाने के लिए खोला खजाना, दिये डेढ़ करोड़

By Shakti Prakash Shrivastva on July 7, 2021
0 204 Views
शेयर न्यूज

लखनऊ, (मुख्य संवाददाता)। सही मायने में योगी वही है जो अपने धर्म को बखूबी समझे। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर प्रमाणित कर दिया है कि वो धर्म के साथ-साथ कर्म से भी योगी हैं। कोरोनाकाल में सैकड़ों लोगों की जिंदगियां बचाने वाली एक महिला डॉक्टर की जान बचाने की बात आई तो योगी आदित्यनाथ ने खजाने का मुंह खोल दिया। उन्होने डाक्टर की चिकित्सकीय सहायता के लिए डेढ़ करोड़ रुपये की धनराशि दिये जाने की घोषणा की है।

डॉ.राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान, लखनऊ की रेजिडेंट डॉक्टर शारदा सुमन पिछले एक साल से कोरोना मरीजों का इलाज कर रहीं थीं। गर्भवती होने के बावजूद उन्होंने लगातार अपनी जिम्मेदारियाँ निभाईं। आठ माह की गर्भवती होने की स्थिति में 14 अप्रैल को वह कोरोना से संक्रमित हो गईं। 19 अप्रैल को तबीयत ज्यादा खराब होने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया और एक मई को उन्होंने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया। इस बीच संक्रमण के चलते उनका फेफड़ा पूरी तरह से खराब हो गया। डॉक्टर्स ने लंग्स ट्रांसप्लांट की सलाह दी। लंग्स ट्रांसप्लांट में होने वाले खर्चे को लेकर उनका परिवार परेशान हो गया। मूलरूप से बिहार की आरा निवासी डा. शारदा सुमन के पति बिहार में रेजिडेंट डाक्टर हैं। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. विक्रम सिंह की मुताबिक निदेशक डॉ. सोनिया नित्यानंद, सीएमएस डॉ. राजन भटनागर के साथ उन्होंने सीएम से मुलाकात कर डॉ. शारदा की जान बचाने के लिए फेफड़े के ट्रांसप्लांट संबंधी जानकारी दी। स्थिति की गंभीरता देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने सहर्ष औपचारिकताये पूरी करते हुए आवश्यक धनराशि जारी कर दी। अब चेन्नई में महिला डाक्टर का लंग्स ट्रांसप्लांट कराया जाएगा। संकट की घड़ी में सीएम योगी की इस उदार सहयोग का न केवल डाक्टर का परिवार बल्कि समूचा चिकित्सक समाज तारीफ कर रहा है। चिकित्सकों का मानना है कि इससे चिकित्सकों में सरकार के प्रति आदरभाव बढ़ेगा।

 


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *