June 30, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

वाराणसी : खेला होई और खेला ना होई का ‘पोस्टर खेला’ शुरू

By Shakti Prakash Shrivastva on July 7, 2021
0 89 Views
शेयर न्यूज

वाराणसी, (संवाददाता)। विधान सभा चुनाव का समय जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है सियासी दलों की गतिविधियां भी तेज होने लगी हैं। ट्वीटर जैसे सोशल मीडिया से होता हुआ जुबानी जंग अब पोस्टर वार तक पहुँच गया है। वाराणसी में इन दिनों जगह-जगह लगाए गए बीजेपी और एसपी जैसे राजनीतिक दलों से संबन्धित पोस्टर चर्चा का विषय बने हुए हैं। शुरुआत एसपी की तरफ से हुई जब एक पूर्व विधायक ने शहर में खेला होई का पोस्टर लगाया। इसके बाद जवाब में बीजेपी कार्यकर्ता की तरफ से खेला न होई से लगायत खेला खत्म होई के पोस्टर लगा दिये गए।

भले ही उत्तर प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में सात-आठ महीने का वक्त है लेकिन राजनीतिक दलों ने अपने गतिविधियों के जरिये मिशन-2022 का बिगुल फूँक दिया है। वाराणसी में तो बाकायदा पोस्टर जंग छिड़ गयी है। ऐसा लग रहा है कि एसपी और बीजेपी ने पश्चिम बंगाल की तर्ज पर यूपी में भी 2022 में ‘’खेला’’ शब्द को अपना टैग लाइन बनाने जा रही है। पोस्टर वार की शुरुआत एसपी के पूर्व विधायक अब्दुल समद अंसारी ने 2022 में खेला होई लिखा पोस्टर अपने घर के बाहर लगा कर की। फिर क्या था बीजेपी कहा चूकने वाली इनके कार्यकर्ता और सारनाथ मण्डल के पूर्व महामंत्री एचपी यादव ने भी जवाबी पोस्टर लगा दिये जिस पर लिखा था 2022 में खेला न होई बल्कि गुंडा, माफिया, भूमाफिया, भ्रष्टाचारियों और देशद्रोहियों का खेला खत्म होई। इस पोस्टर वार पर बीजेपी गोरखपुर क्षेत्र के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष डॉ. सत्येन्द्र सिन्हा का मानना है कि यह पूरा मामला एसपी जैसी पार्टी की हताशा का है। प्रदेश की योगी सरकार के कामकाज से जिस तरह से आम जनता में सरकार की लोकप्रियता बढ़ रही है उससे इनका हताश होना लाजिमी भी है। उनकी हताशा इस बात का परिचायक भी है कि 2022 में प्रदेश में योगी सरकार दुबारा प्रचंड बहुमत से वापस आ रही है।

 


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *