June 30, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • बिहार / झारखंड
  • बिहार में बिजली आपूर्ति पर पड़ सकता है असर, पटना में NTPC के दो सौ कर्मचारी व उनके परिजन संक्रमित

बिहार में बिजली आपूर्ति पर पड़ सकता है असर, पटना में NTPC के दो सौ कर्मचारी व उनके परिजन संक्रमित

By Purvanchalnama Desk on April 20, 2021
0 88 Views
शेयर न्यूज

पटना-बिहार में बिजली आपूर्ति व्यवस्था प्रभावित हो सकती है। बिहार को मुख्य रूप से एनटीपीसी से बिजली मिलती है। एनटीपीसी के पूर्वी क्षेत्र में अब तक 200 से अधिक कर्मी व उनके परिजन संक्रमित हो चुके हैं। अब प्रबंधन के समक्ष सभी बिजली इकाइयों को चलाना चुनौती बनती जा रही है।सोमवार को एनटीपीसी की बाढ़ थर्मल इकाई में आधे दर्जन कर्मी संक्रमित पाए गए। उनकी स्थिति बेहद नाजुक बताई जा रही है। प्रबंधन बिहार सरकार से आवश्यक दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने में लगा रहा। चूंकि सभी कर्मी बिजली घर के ऑपरेशन यानी उत्पादन कार्य से जुड़े हुए हैं। ऐसे में इनका जल्द ठीक होना जरूरी है। ऐसे में प्रबंधन ने यह भी तय किया है कि जरूरी हो तो कर्मियों को हेलीकॉप्टर से दिल्ली, मुंबई या कहीं और ले जाकर इलाज कराया जाएगा।

एनटीपीसी ने बिहार सरकार को लिखा पत्र

एनटीपीसी के एक वरीय अधिकारी के अनुसार बिजली घर को चलाने के लिए एक शिफ्ट में कम से कम दो दर्जन कर्मियों की जरूरत पड़ती है। ऐसे में अगर कोई एक कर्मी भी कोरोना संक्रमित हो जा रहा है तो उनके साथ पूरी टीम को आइसोलेट करना पड़ रहा है। इसके अलावा परिजनों में अगर कोई कोरोना संक्रमित हो रहे हैं तो वैसे कर्मी काम पर नहीं आ पा रहे हैं। इस कारण एनटीपीसी की अधिकतर इकाइयों में कम कर्मचारी से ही काम चलाया जा रहा है। वहीं कई कर्मी 2 पाली में लगातार काम कर रहे हैं। एनटीपीसी के समक्ष कर्मियों के लिए ऑक्सीजन की समस्या भी है। बिहार सरकार के संबंधित अधिकारियों की ओर से अपेक्षित मदद नहीं मिलने के कारण एनटीपीसी अपने कोरोना संक्रमित कर्मियों के इलाज के लिए भी जूझ रहा है।सोमवार को एनटीपीसी की ओर से बिहार सरकार को पत्र लिखा गया है। पत्र में कहा गया है कि बिहार के 6 उत्पादन इकाइयों से एनटीपीसी 6810 मेगावाट बिजली उत्पादन करता है। इसकी 70 फीसदी बिजली बिहार में ही खपत होती है। कंपनी के अधिकारियों की माने तो ऑपरेटर से लेकर इंजीनियर तक कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। इस कारण बिजली आपूर्ति करने में भी परेशानी हो रही है। हालांकि कंपनी प्रबंधन इस प्रयास में लगातार जुटा है कि किसी भी स्तर पर बिजली आपूर्ति बाधित ना हो।कर्मियों को कोरोना से बचाने के लिए एनटीपीसी को रेमडेसिविर दवा की आवश्यकता है। सरकार उच्च प्राथमिकता के तौर पर एनटीपीसी को यह दवा उपलब्ध कराए।


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *