July 6, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • बिहार / झारखंड
  • बिहार-जेडीयू विधायक व पूर्व मंत्री मेवालाल चौधरी और डॉक्‍टर समेत 30 लोगों ने 24 घंटे में तोड़ा दम

बिहार-जेडीयू विधायक व पूर्व मंत्री मेवालाल चौधरी और डॉक्‍टर समेत 30 लोगों ने 24 घंटे में तोड़ा दम

By Purvanchalnama Desk on April 19, 2021
0 85 Views
शेयर न्यूज

पटना– बिहार में कोरोना से मौतों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। अब पटना के अस्‍पतालों में हर घंटे एक मरीज कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ रहा है। बिहार सरकार के पूर्व मंत्री मेवा लाल चौधरी का कोरोना संक्रमण की वजह से निधन हो गया है। वे पटना के पारस अस्‍पताल में इलाज करा रहे थे। सांस लेने में दिक्‍कत होने के बाद उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। उनका निधन सोमवार की सुबह हुआ। पटना एम्‍स में इलाज करा रहे पीएमसीएच के एक पूर्व विभागाध्‍यक्ष की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई है। पिछले 17 दिनों में कोरोना संक्रमण की दर आठ गुना बढ़ गई है। अब एक-एक दिन में आठ हजार से अधिक नए संक्रमित मिल रहे हैं।

मंत्री ने सरकारी व्यवस्था पर उठाया सवाल

कोरोना के कुल सक्रिय मामलों की संख्‍या अब करीब 40 हजार के आसपास पहुंच गई है। बिहार के प्रमुख अस्‍पतालों में बेड और दूसरे संसाधन मरीजों की संख्‍या के सामने कम पड़ रहे हैं।बिहार में कोरोना से मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। 24 घंटे के अंदर बिहार के अलग-अलग अस्‍पतालों में करीब 30 लोगों की मौत हो चुकी है। पटना के पीएमसीएच, एनएमसीएच, आइजीआइएमएस और पटना एम्‍स में कोरोना वार्ड के बेड पहले से भरे पड़े हैं। एक मरीज की मौत होने पर दूसरे के लिए बेड खाली हो रहा है। इस बीच एक अच्‍छी खबर यह है कि पटना से करीब 30 किलोमीटर दूर बिहटा के ईएसआइसी अस्‍पताल में बेड अभी खाली हैं।सरकार ने पिछले 24 घंटे में 27 लोगों के कोरोना संक्रमण से मरने की बात स्‍वीकार की की है। इनमें से अकेले 22 मौतें पटना जिले में हुई हैं। यह आंकड़ा लगातार ही बढ़ता जा रहा है। बिहार में कोरोना का नया स्‍ट्रेन कई डॉक्‍टर और आइएएस अधिकारी की जान लेने के साथ ही अब एक विधायक और पूर्व मंत्री को भी अपना शिकार बना चुका है।अब प्रदेश में पांच से सात हजार संक्रमित प्रतिदिन मिल रहे हैं, जबकि मार्च के प्रारंभ में औसतन सात दिन में 224 संक्रमित मिल रहे थे। उसके अगले सप्ताह में औसतन 267 और 15-21 मार्च के बीच 544 संक्रमित मिले थे। 22-28 मार्च के बीच रफ्तार थोड़ी बढ़ी और एक सप्ताह में 1386 पॉजिटिव मिले। अप्रैल के आते-आते राज्य से एक दिन में 488 संक्रमित मिलने शुरू हुए। 17 अप्रैल यह आंकड़ा बढ़ते-बढ़ते सात हजार संक्रमित तक जा पहुंचा है।बिहार सरकार के पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी ने अपनी ही सरकार की स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था पर सवाल उठाया है। उन्‍होंने पूर्व शिक्षा मंत्री मेवा लाल चौधरी के निधन पर दुख जताते हुए कहा कि यह दुखद है कि अब हम अपने सांसद, विधायक तक की जान नहीं बचा पा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि लोगों को स्थिति की गंभीरता समझने और खुद का बचाव करने की जरूरत है।


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *