July 5, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • पूर्वांचल न्यूज
  • रेमडेसिविर इंजेक्शन के जमाखोरों के खिलाफ CM योगी की सख्ती, NSA के तहत कार्रवाई

रेमडेसिविर इंजेक्शन के जमाखोरों के खिलाफ CM योगी की सख्ती, NSA के तहत कार्रवाई

By Purvanchalnama Desk on April 18, 2021
0 93 Views
शेयर न्यूज

लखनऊ-कोरोना संकट के दौर में भी लोगों की परेशानियों को इग्नोर कर कुछ लोग अवैध धन उगाही करने में व्यस्त हैं। ऐसे कुछ लोग रेमडेसिविर इंजेक्शन ऊंचे दामों में बेच रहे हैं। वही यूपी में योगी सरकार रेमडेसीवीर की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त हो गयी है।योगी सरकार कानपुर में बीते गुरुवार को रेडमेसिविर इंजेक्शन की 265 वायल के साथ पकड़े गए तीन तस्करों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) लगाएगी। योगी सरकार ने यूपी पुलिस को ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है जो कोविड-19 दवाओं की कालाबाजारी करते हैं। लिहाजा संकट के इस दौर में कोई भी गैरकानूनी गतिविधि बर्दाश्त नहीं की जाएगी और ऐसे लोगों को सख्त से सख्त सजा दी जाएगी।

अधिकारियों को सख्त कार्रवाई का निर्देश

सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद उत्तर प्रदेश एसटीएफ के साथ ही लोकल पुलिस की टीमें जमाखोरों तथा कालाबाजारी करने वालों की तलाश में लगी हैं। कानपुर में दो दिन पहले रेमडेसिविर इंजेक्शन के साथ पकड़े गए तीन आरोपियों के खिलाफ सरकार अब एनएसए के तहत कार्रवाई करेगी। कानपुर में 265 रेमडेसिविर इंजेक्शन के साथ पकड़े गए तीन व्यक्तियों को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) के प्रावधानों के तहत सजा देने का फैसला किया है। राज्य सरकार ने पुलिस को ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया है जो कोविड-19 के संक्रमण के दौर मे जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी करते हैं। कानपुर के पुलिस कमिश्नर असीम अरुण ने कहा कि कोई भी गैरकानूनी गतिविधि बर्दाश्त नहीं की जाएगी। यह मानवता के खिलाफ एक अपराध है और हम गुरुवार को रेमडेसिविर इंजेक्शन के साथ गिरफ्तार तीन लोगों के खिलाफ एनएसए के तहत कार्रवाई करेंगे। इन तीन में से एक तो कोरोना वायरस से संक्रमित भी हो गया है। कानपुर की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने गुरुवार को 265 रेमडेसिविर इंजेक्शन के साथ तीन लोगों को गिरफ्तार किया था, जो इसकी कालाबाजारी करने में शामिल थे।सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि सरकार लोगों को रेमडेसिविर दवाएं और अन्य कोविड से संबंधित दवाओं की उपलब्धता की सुविधा को आसान बनाने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। अधिकारी फार्मा डिस्ट्रीब्यूटर्स पर निगरानी रख रहे हैं।बता दें कि कोरोना संक्रमण के इस दौर में रेमडेसिविर इंजेक्शन को जीवन रक्षक दवा के रूप में देखा जा रहा है। यही कारण है कि रेमडीसिविर इंजेक्शन को लोग महंगी कीमत पर भी खरीदने को तैयार हैं। रेमडेसिविर इंजेक्शन का इस्तेमाल कोरोना के गंभीर मरीजों के इलाज में किया जाता है।


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *