June 30, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • पूर्वांचल न्यूज
  • यूपी पंचायत चुनाव:भाजपा ने उन्नाव से कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी को बनाया जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी

यूपी पंचायत चुनाव:भाजपा ने उन्नाव से कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी को बनाया जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी

By Purvanchalnama Desk on April 9, 2021
0 112 Views
शेयर न्यूज

लखनऊ-उत्तर प्रदेश के उन्नाव में भाजपा ने जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशियों के नामों की सूची जारी कर दी है। सूची में उन्नाव रेप केस में सजायाफ्ता पूर्व भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर की पत्नी संगीता सेंगर को भाजपा ने जिला पंचायत की टिकट दी है। बता दें कि उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने जा रहे हैं और संगीता सेंगर को उन्नाव जिले के फ़तेहपुर चौरासी तृतीय से ज़िला पंचायत सदस्य का टिकट दिया गया है।पार्टी सूत्रों ने बताया है कि उनकी उम्मीदवारी को प्रदेश के भाजपा प्रमुख स्वतंत्र देव सिंह और महासचिव (संगठन) सुनील बंसल ने मंजूरी दी है। इसके पीछे वजह अप्रैल 2018 में कुलदीप सेंगर की गिरफ्तारी के बाद उनके परिवार को इलाके में मिली सहानुभूति है। यहां के कई लोगों का मानना है कि वह निर्दोष हैं और उन्हें राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों द्वारा फंसाया गया है। लोगों की इन्हीं भावनाओं को ध्यान में रखते हुए संगीता सेंगर को भाजपा ने मैदान में उतारा है।

भाजपा ने बनाया उम्मीदवार

उत्तर प्रदेश के बांगरमऊ से चार बार बीजेपी के टिकट पर विधायक रहे कुलदीप सिंह सेंगर को साल 2017 में उन्नाव रेप केस में गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद भाजपा ने कुलदीप सिंह सेंगर को अगस्त 2019 में पार्टी से निष्काषित कर दिया था।सेंगर को बलात्कार और अपहरण के मामले में भी दोषी करार दिया गया था। दोषी करार दिए जाने के बाद उसे उम्रकैद की सजा सुनाई गई थी। अदालत ने कहा था, दोषी विधायक को बाकी बची उम्र अंतिम सांस तक जेल में काटनी होगी। कोर्ट ने इसे एक लोकतांत्रिक पदाधिकारी का दुष्टतापूर्ण कृत्य करार दिया था। कोर्ट ने कठोर संदेश देते हुए दोषी को उम्रकैद की अधिकतम सजा सुनाने का निर्णय किया और कहा कि दोषी अपनी स्वाभाविक उम्र की अंतिम सांस तक जेल में रहेगा।वहीं रेप सर्वाइवर के पिता की पुलिस हिरासत में हुई मौत के मामले में भी सेंगर सहित सभी दोषियों को कोर्ट ने 10 साल की सजा सुनाई थी।बता दें कि उम्रकैद की सजा पा चुके कुलदीप सेंगर की पिछले साल फरवरी में उत्तर प्रदेश विधान सभा की सदस्यता खत्म कर दी गई थी। अभी वह तिहाड़ जेल में बंद है।


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *