April 18, 2021
ट्रेंडिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • स्टेट न्यूज
  • मुख्तार अंसारी को लेकर बांदा के लिए निकली यूपी पुलिस, बीवी को सता रहा विकास दुबे वाला ‘डर’, SC में याचिका

मुख्तार अंसारी को लेकर बांदा के लिए निकली यूपी पुलिस, बीवी को सता रहा विकास दुबे वाला ‘डर’, SC में याचिका

By on April 6, 2021 0 6 Views

दिल्ली/लखनऊ-बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को पंजाब की रोपड़ जेल से लेकर यूपी पुलिस बांदा के लिए रवाना हो गई है। मंगलवार सुबह पुलिस की टीम रोपड़ जेल पहुंची। यहां जेल अधिकारियों ने कड़ी सुरक्षा के बीच मुख्तार अंसारी को यूपी पुलिस की कस्टडी में सौंप दिया। दोपहर दो बजकर पांच मिनट पर यूपी पुलिस की टीम मुख्तार को लेकर रोपड़ जेल के गेट नंबर 2 से बाहर निकली। जेल से बाहर निकलते हुए मुख्तार अंसारी एंबुलेंस में बैठा नजर आया। एंबुलेंस के आगे-पीछे यूपी पुलिस की गाड़ियां सिक्योरिटी कवर दे रही हैं। कागजी कार्यवाही की वजह से मुख्तार का हैंडओवर दोपहर में जाकर हो पाया।तकरीबन 900 किलोमीटर के सफर में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे से बागपत होते हुए उसे लाया जा रहा है। इसके बाद यमुना एक्सप्रेसवे के रास्ते इटावा और औरैया होते हुए उसे बांदा जेल लाया जाएगा। एक प्लाटून पीएसी, 10 गाड़ियों, वज्र वाहन और एंबुलेंस के काफिले के साथ यूपी पुलिस उसे बांदा ला रही है। रोपड़ जेल से बांदा तक के इस सफर में 14-15 घंटे लग सकते हैं। उम्मीद है कि सुबह 4 बजे तक मुख्तार अंसारी बांदा जेल पहुंच सकता है। इस बीच मुख्तार की पत्नी ने सुरक्षा के लिए सुप्रीम कोर्ट में अपील की है।

मुख्तार की पत्नी की SC में याचिका

मुख्तार अंसारी की पत्नी ने मुख्तार का हाल विकास दुबे जैसा होने की आशंका जताई है।उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दाखिल की है और पति को पर्याप्त सुरक्षा देने की मांग की है।उनकी पत्नी ने अंसारी की जान को खतरा बताया है और कहा कि उनका हश्र भी विकास दुबे जैसा हो सकता है। अफशान ने कहा है कि मुख्तार अंसारी ने बीजेपी के खिलाफ मजबूती से चुनाव लड़ा था और उसके कार्यकर्ताओं के खिलाफ दर्ज कई केसों में वह गवाह भी हैं। अपनी याचिका में कहा कि मुख्तार अंसारी को एनकाउंटर में मार दिए जाने का खतरा है।साथ ही माफिया डॉन ब्रजेश सिंह भी राज्य सरकार की मदद से उनको जान से मारने की कोशिश कर सकते हैं।याचिका में कहा गया है कि मुख्तार अंसारी को बांदा जेल ले जाने के दौरान या जेल में रहते हुए जान से मारा जा सकता है।मुख्तार अंसारी ने बीजेपी के खिलाफ चुनाव लड़ चुके हैं और वो कुछ ऐसे मामले में गवाह हैं जिसमें बीजेपी के नेता आरोपी हैं। इसलिए उनको मारने की कोशिश की जा सकती है।याचिका में मांग की गयी है कि मुख्तार अंसारी को सुरक्षा दी जाए।इधर मुख्तार को यूपी पुलिस कड़ी सुरक्षा के साथ बांदा लाएगी। बांदा जेल के जिस बैरक में मुख्तार को रखा जाएगा उसके आसपास भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। जेल के अंदर की 10 से 15 फिट की दूरी पर पुलिस जवान तैनात कर दिए गए हैं। जेल में हर किसी के आने-जाने का रिकॉर्ड रखा जा रहा है। पुलिस के जवानों पर नजर रखी जाएगी कि कौन कितनी बार आ जा रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *