April 18, 2021
ट्रेंडिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • आज फ्रांस से भारत आएंगे तीन नए राफेल फाइटर जेट, चीन को मिलेगी कड़ी टक्कर

आज फ्रांस से भारत आएंगे तीन नए राफेल फाइटर जेट, चीन को मिलेगी कड़ी टक्कर

By on March 31, 2021 0 5 Views

नई दिल्ली(एजेंसी)- भारतीय वायुसेना की ताकत में और इजाफा होने जा रहा है।राफेल लड़ाकू विमानों की नई खेप आज हिन्दुस्तान पहुंच रही है। खबरों के मुताबिक तीनों राफेल लड़ाकू विमान आज शाम अंबाला के एयरबेस पर लैंड करेंगे। ये तीनों लड़ाकू विमान फ्रांस से हिन्दुस्तान की लगभग 7 हजार किमी.की दूरी बिना रुके तय करेंगे।यूएई के आसमान में ही तीनों विमानों में एयर टू एयर रिफ्यूलिंग की जाएगी, यानि उड़ान के दौरान आसमान में ही ईंधन भरा जाएगा।भारत को अब तक 21 राफेल सौंपे जा चुके हैं जबकि 11 ही भारत आए हैं। ये सभी अंबाला में मौजूद वायुसेना के गोल्डन ऐरो स्कॉवड्रन का हिस्सा हैं और आज जो तीन राफेल आएंगे उन्हें भी गोल्डन एरो स्कॉवड्रन में ही शामिल किया जाएगा।

अप्रैल में पांच और राफेल आएंगे

इन लड़ाकू विमानों की एक और नई खेप अगले महीने यानि अप्रैल के आखिर में आएगी। अप्रैल वाली खेप में तीन की जगह 5 राफेल लड़ाकू विमान होंगे। नए विमानों को पश्चिम बंगाल के हाशिमारा एयरबेस पर तैनात किया जाएगा। चीन से लगती पूर्वी सीमा की निगरानी या जरूरत पड़ने पर इनका इस्तेमाल हाशिमारा बेस से आसानी से किया जा सकेगा। राफेल विमानों की पहली खेप पिछले साल 29 जुलाई को फ्रांस से भारत आई थी। भारत ने फ्रांस से 59 हजार करोड़ रुपये में 36 लड़ाकू विमान खरीदने के लिये साल 2015 में अंतर-सरकारी करार पर हस्ताक्षर किये थे। पिछले साल 10 सितंबर को अंबाला में हुए एक कार्यक्रम में राफेल लड़ाकू विमानों को औपचारिक रूप से वायुसेना के बेड़े में शामिल कर लिया गया था। तीन विमानों की दूसरी खेप तीन नवंबर को भारत आई थी जबकि तीन और विमानों की तीसरी खेप 27 जनवरी को यहां पहुंची।भारत ने फ्रांस के साथ 2016 में तकरीबन 58 हजार करोड़ रुपये की डील फाइनल की थी। तब इस डील को लेकर कांग्रेस ने सरकार पर जमकर निशाना साधा था। इस डील के तहत भारत को फ्रांस से 36 राफेल विमान मिलने हैं। फरवरी 2021 तक जाकर राफेल विमान पूरी तरह से ऑपरेशनल होंगे। राफेल विमान को फ्रांस ने भारतीय वायुसेना के हिसाब से बनाया है, जिसमें भारत की जरूरतों का ध्यान रखा गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *