June 30, 2022
ब्रेकिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • महाराष्ट्र मामले पर संसद में हंगामा, जावड़ेकर बोले- ‘गृहमंत्री वसूली कर रहे हैं, सारे देश ने देखा’

महाराष्ट्र मामले पर संसद में हंगामा, जावड़ेकर बोले- ‘गृहमंत्री वसूली कर रहे हैं, सारे देश ने देखा’

By Purvanchalnama Desk on March 22, 2021
0 89 Views
शेयर न्यूज

नई दिल्ली(एजेंसी)- राज्यसभा में महाराष्ट्र सरकार पर वसूली के आरोप पर जमकर हंगामा देखने को मिला। हंगामे की बीच राज्यसभा की कार्यवाही दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। वहीं लोकसभा में भी इस मुद्दे पर जमकर हंगामा हुआ।केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राज्यसभा में इस मसले को उठाया और कहा कि गृह मंत्री वसूली कर रहे हैं और ये सारा देश देख रहा है। जावडे़कर ने कहा कि पहले आतंकवादी बम लगाते थे अब पुलिस बम लगाती है।

जावड़ेकर का महाराष्ट्र सरकार पर निशाना

मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह की ओर से महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर लगाए गए आरोपों को लेकर सोमवार को संसद के दोनों सदनों में हंगामा हुआ है। भारतीय जनपा पार्टी के सांसदों ने इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि एक राज्य के गृहमंत्री पर हर महीने 100 करोड़ की वसूली के आरोप लगे हैं और एक सीनियर अफसर ने ये आरोप लगाए हैं। ऐसे में इस मुद्दे की अनदेखी नहीं की जा सकती है, ये बहुत गंभीर मामला है।राज्यसभा में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के मामले को उठाया। जिसको लेकर काफी हंगामा और शोर शराबा हुआ। जिसके बाद उच्च सदन की कार्यवाही को स्थगित भी करना पड़ा। लोकसभा में भारतीय जनता पार्टी के सांसद राकेश सिंह ने इस मुद्दे को उठाते हुए कहा, बहुत गंभीर आरोप अनिल देशमुख पर लगे हैं लेकिन इससे भी ज्यादा अजीब ये है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे उनको बचा रहे हैं। राकेश सिंह ने कहा, ये शायद देश में पहली बार है कि कि एक मुख्यमंत्री अपने उस मंत्री के बचाव में प्रेस वार्ता कर रहे हैं, जिस पर पुलिस अफसर को 100 की उगाही करने को कहने का आरोप है। आखिर ये क्या हो रहा है?महाराष्ट्र के अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा ने इस मामले को उठाते हुए कहा कि पूरी राज्य सरकार इसमें संदेह के घेरे में है।


शेयर न्यूज
Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *