April 15, 2021
ट्रेंडिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • महाराष्ट्र-शरद पवार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिए गृह मंत्री अनिल देशमुख की बेगुनाही के ‘सबूत’

महाराष्ट्र-शरद पवार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दिए गृह मंत्री अनिल देशमुख की बेगुनाही के ‘सबूत’

By on March 22, 2021 0 10 Views

मुंबई(एजेंसी)-महाराष्ट्र में पुलिस अधिकारी परमबीर सिंह की चिट्ठी के बाद से सियासी भूचाल आ गया है। इस मुद्दे को लेकर सोमवार को संसद के दोनों सदनों में जमकर हंगामा मचा। इस बीच एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी बात रखी है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में पवार ने अनिल देशमुख का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि फरवरी महीने में देशमुख अस्पाल में भर्ती थे। ऐसे में फरवरी में देशमुख और सचिन वझे के बीच बातचीत का आरोप गलत है।पवार ने इस दौरान देशमुख के अस्पताल में भर्ती होने का पर्चा भी दिखाया। उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते 5 से 15 तक वह नागपुर के अस्पताल में भर्ती थे।

अनिल देशमुख का किया बचाव

शरद पावर ने परमबीर सिंह के आरोपों पर सवाल उठाते हुए कहा कि पिछले एक महीने से वो चुप क्‍यों थे? अगर उन्‍हें गृहमंत्री की बात सही नहीं लगी थी तो उस समय क्‍यों नहीं बोले?यह आरोप जिस समय के बारे में था, उस समय की स्थिति क्या थी, यह साफ हो गया है। यह एक गंभीर चीज है। उन्होंने कहा कि यह सीएम का काम है कि वह इस पर ऐक्शन लेना चाहते हैं तो लें या जांच करना चाहते हैं तो करें। यह मेरा काम नहीं है। जिस समय का यह आरोप लगा है, उस समय अनिल देशमुख अस्पताल में थे। ऐसे में यह बात साफ है कि इस आरोप में कोई दम नहीं है।उन्‍होंने एक बार फिर कहा कि जब ये बात साफ हो गई है कि जिस समय की बात परमबीर सिंह ने अपने आरोप में की है उस वक्‍त देशमुख अस्‍पताल में थे, ऐसे में उनके इस्‍तीफे की बात ही कहीं नहीं आती है।इससे पहले भी एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने मुंबई के पूर्व पुलिस कम‍िश्‍नर परमबीर सिंह की चिट्ठी से उपजे विवाद को सरकार को अस्थिर करने की साजिश बताया था। शरद पवार ने कहा था कि यह शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस की गठबंधन सरकार को अस्थिर करने की कोशिश है। उन्‍होंने परमबीर सिंह के आरोपों को झूठा बताया। मीडिया से बातचीत में शरद पवार ने कहा था कि परमबीर सिंह की चिट्ठी में आरोप लगाए गए हैं। उसमें सबूत नहीं है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *