April 18, 2021
ट्रेंडिंग न्यूज

Sign in

Sign up

  • Home
  • टॉप न्यूज
  • केंद्रीय शिक्षा मंत्री का 15 दिनों में शिक्षकों की कमी दूर करने का निर्देश

केंद्रीय शिक्षा मंत्री का 15 दिनों में शिक्षकों की कमी दूर करने का निर्देश

By on March 6, 2021 0 17 Views

 

लखनऊ-केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक शुक्रवार शाम से लखनऊ दौरे पर हैं। लखनऊ में उन्होंने ट्रिपल आइटी, आइआइएम, जवाहर नवोदय विद्यालय तथा केंद्रीय विद्यालय के शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक के बाद रात में उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ भेंट कर नई शिक्षा नीति पर भी चर्चा की।केंद्रीय मंत्री निशंक ने शुक्रवार शाम को राजधानी लखनऊ में केंद्रीय विद्यालय, नवोदय विद्यालय, आइआइएम लखनऊ और ट्रिपल आइटी के पदाधिकारियों के साथ भी बैठक कर इन शिक्षण संस्थाओं के कामकाज की समीक्षा की और उनकी व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त करने का निर्देश दिया। इस दौरान सभी को नई केंद्रीय शिक्षा नीति को भी शीघ्र अमल मे लाने की तैयारी करने का निर्देश दिया।

केंद्रीय मंत्री ने अधिकारियों को दिया निर्देश

केंद्रीय मंत्री निशंक ने इस दौरान उत्तर प्रदेश में सभी केंद्रीय विद्यालयों में शिक्षकों की कमी को 15 दिन में दूर करने के लिए भी कहा है। उन्होंने कहा कि गोरखपुर में भी केंद्रीय विद्यालय के निर्माण का कार्य जल्दी ही पूरा हो, जिससे कि यहां पर भी शैक्षणिक सत्र 2021-22 से पठन पाठन का काम शुरू हो सके।केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके सरकारी आवास पर मुलाकात कर प्रदेश में नई शिक्षा नीति (एनईपी) के क्रियान्वयन पर चर्चा की। इस मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने उन्हें प्रदेश में नई शिक्षा नीति को लागू करने के बारे में राज्य सरकार की ओर से उठाए गए कदमों की जानकारी दी। इसके साथ ही निशंक तथा मुख्यमंत्री के बीच प्रदेश में आंगनबाड़ी केंद्रों में प्री-प्राइमरी कक्षा के संचालन की तैयारियों को लेकर भी चर्चा हुई। निशंक ने सीएम योगी आदित्यनाथ के नई शिक्षा नीति को प्रदेश में अमली जामा पहनाने के प्रयासों की सराहना की। इससे पहले केंद्रीय शिक्षा मंत्री को उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने भेंट के दौरान प्रदेश में नई शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के बारे में विस्तार से जानकारी दी।इससे पहले केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक ने शुक्रवार को दिन में नई दिल्ली में ई दिल्ली विश्व पुस्तक मेला का उद्घाटन किया। पूरी तरह से वर्चुअल संस्करण में आयोजित हो रहे इस मेले का इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यह कहते हैं कि जो पढ़ता है वही आगे बढ़ता है। मेरा भी यह मानना है, जिसमें लिखने-पढऩे और उसको अमल में लाने की क्षमता है, वह अच्छा लीडर हो सकता है। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के पर बात करते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा कि यह नीति तो लोकल को ग्लोबल स्तर पर ले जाएगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *